मुस्लिम होने के बावजूद भी मुहर्रम नहीं मनाते हैं ये बॉलीवुड सितारे … क्या है मुहर्रम ? जानिए

0
17

दोस्तों बॉलीवुड के मुस्लिम अभिनेता सलमान, शाहरुख, सैफ और आमिर यूं तो हर तरह के पर्व को बड़े धूमधाम से मनाते हैं, चाहे वो हिंदू धर्म का पर्व हो, मुस्लिम धर्म का पर्व हो या कोई और पर्व हो। लेकिन मुस्लिम होने के बावजूद भी ये बॉलीवुड के सितारे मुस्लिम धर्म के पर्व मुहर्रम को क्यों नहीं मनाते हैं। आइये जानते हैं आखिर ऐसा क्यों है।

दोस्तों मुहर्रम के इस पवित्र महीने के 10 वें दिन विशेष रूप से मनाया जाता है, जहां शिया समुदाय हज़रत अली के बेटे इमाम हुसैन और पैगंबर मुहम्मद के पोते के बलिदान का शोक मनाता है। ऐसा माना जाता है कि कुछ चैदह सदियों पहले, पैगंबर मुहम्मद के पोते, इमाम हुसैन और उनके परिवार वालों को आशूरा के दिन, कर्बला के युद्ध में एक जालिम शासक द्वारा शहीद कर दिए गए थे।

गौर की बात यह है कि ये पर्व शिया समुदाय के मुस्लिम मनाते हैं, और बॉलीवुड के सभी सितारे जैसे शाहरुख खान, सलमान खान, सैफ अली खान और आमिर खान सुन्नी समुदाय के है। इसलिए वो मुहर्रम का पर्व नहीं मनाते हैं। और कभी भी खुले तौर पर मुहर्रम के समर्थन में बोलते हुए नज़र नहीं आते हैं।

आज से करीब 1400 साल पहले इराक के शहर कर्बला में उस वक़्त के हाकिम यज़ीद ने पैगंबर मोहम्मद के छोटे नवासे इमाम हुसैन, उनके परिवार और अजीज दोस्तों समेत 72 लोगों शहीद कर दिया गया था. शहीद किए जाने वालों में कई दूध पीते मासूम बच्चे भी थे.

जिस दिन ये घटना घटी वो मुहर्रम की 10वीं तारीख थी. इसलिए हर मुहर्रम की 10वीं तारीख को कर्बला की घटना की याद में उन्हीं शहीदों का मातम मनाया जाता है और ताजिया निकाली जाती है. याद रहे है कि मुहर्रम इस्लामिक कैलेंडर का पहला महीना है.

दोस्तों इस बारे में आप क्या सोचते हैं? कमेंट बॉक्स में अपनी राय जरूर दे। पोस्ट पसंद आए तो पोस्ट को लाइक और शेयर जरूर करें और आगे भी ऐसी बढ़िया और मज़ेदार खबरों को पढ़ते रहने के लिए हमें फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here